Major
Sandeep Unnikrishnan biography in Hindi
मेजर संदीप उन्नीकृष्णन जीवनी

Major
Sandeep Unnikrishnan Jivani | मेजर संदीप उन्नीकृष्णन जीवनी

मेजर संदीप उन्नीकृष्णन का जन्म 15 मार्च
1977
को कालीकट, केरल में हुआ। उनके माता पिता का नाम श्री के. उन्नीकृष्णन और श्रीमती धनलक्ष्मी उन्नीकृष्णन था उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा फ्रैंक एंथोनी पब्लिक स्कूल, बैंगलोर से पूरी की। और 1999 में भारतीय सेना में भर्ती हो गए।

नाम (Name)

मेजर संदीप उन्नीकृष्णन (Major Sandeep Unnikrishnan)

जन्म स्थान (Place of Birth)

15 मार्च 1977 को कालीकट, केरल

माता पिता का
नाम
(parent’s name)

श्री के. उन्नीकृष्णन और
श्रीमती धनलक्ष्मी उन्नीकृष्णन

वीरगति का स्थान

28 नवंबर 2008, ताज होटल,
मुंबई

अंतिम संस्कार का स्थान

हेब्बाल, बैंगलोर, कर्नाटक

राष्ट्रीयता
(nationality)

भारतीय (Indian)

पेशा/ सेवा (profession)

भारतीय सेना, एन. एस.
जी.
(Indian Army, NSG)

उपाधि / रैंक (rank)

मेजर, कमांडो (Major, Commando)

सम्मान (award)

अशोक चक्र, 26 जनवरी 2009 ( Ashoka Chakra),
ऑपरेशन पराक्रम मैडल
(Operation Parakram Medal),
सैन्य सेवा
मेडल
(Sainya Seva Medal)

शिक्षा (study)

फ्रैंक एंथोनी पब्लिक स्कूल, बैंगलोर,
आईएससी विज्ञान विषय
से
स्नातक (ISC Science Subject)

लड़ाई / युद्ध / आर्मी ऑपरेशन

ऑपरेशन विजय (Operation Vijay),
ऑपरेशन पराक्रम (Operation Parakram,
ऑपरेशन रक्षक (Operation Guard),
ऑपरेशन ब्लैक (Operation Black),
टॉर्नाडो

उपनाम
(nickname)

Sandeep Unnikrishnan

 

मेजर
संदीप उन्नीकृष्णन कौन थे? Major Sandeep Unnikrishnan kaun the?

मेजर संदीप उन्नीकृष्णन भारतीय थल सेना में 1999 से 28 नवम्बर 2008 तक मेजर के पद पर देश सेवा की। 2008 में मुंबई आतंकी हमलों में वो आतंकियों से लड़ते हुए वीरगति को प्राप्त हुए। और 26 जनवरी 2009 को उनको अशोक चक्र से सम्मानित किया गया।

 

मेजर
संदीप उन्नीकृष्णन का परिवार Family of Major Sandeep Unnikrishnan

मेजर संदीप उन्नीकृष्णन बैंगलोर के नायर जाति(Caste) से हिंदू परिवार से थे। उनके पिताजी भी आईएसआरओ अधिकारी थे। उनके पिता का नाम श्री के. उन्नीकृष्णन और माता का नाम श्रीमती धनलक्ष्मी उन्नीकृष्णन था। और उनकी पत्नी(wife) का नाम नेहा उन्नीकृष्णन था। मेजर संदीप उन्नीकृष्णन के भाई बहन नही थे वो इकलौते बेटे थे।

 

मेजर
संदीप उन्नीकृष्णन के अंतिम अमर शब्द

उपर मत आना, मैं उन्हें संभाल लूंगा, ये शब्द ऑपरेशन ब्लैक टोरनेडो के दौरान
अपने साथियों से कहे थे। इसके बाद वो मुंबई के ताज होटल में आतंकियों की गोलियों से
शहीद हो गए।

संदीप
उन्नीकृष्णन का अंतिम संस्कार और केरल सरकार विवाद

संदीप उन्नीकृष्णन
के अंतिम संस्कार में केरल सरकार का कोई नेता या प्रतिनिधि नही पहुंचने से मीडिया और लोगो में इसकी काफी आलोचना हुई।

लेकिन शहीद होने पर केरल के मुख्य मंत्री वी. एस. अच्युतानंदन
और गृह मंत्री कोडियेरी बालाकृष्णन ने 30 नवम्बर 2008 के दिन परिवार के साथ शौक वयक्त करने आए थे।

संदीप उन्नीकृष्णन के बेटे
का नाम क्या है?

उनके बेटे और बेटी का नाम लेख में लिखा है।

 

 

 

 

 

By Neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *