Delhi ka police commissioner kaun hai | दिल्ली का पुलिस कमिश्नर कौन है

कौन हैं IPS संजय अरोड़ा जिन्हें दिल्ली का नया पुलिस कमिश्नर बनाया गया

IPS अधिकारी संजय अरोड़ा दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर बनाए गए हैं। गृह मंत्रालय ने भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP)
के महानिदेशक संजय अरोड़ा को दिल्ली का पुलिस कमिश्नर नियुक्त किया है। इस बाबत गृह मंत्रालय ने आदेश जारी कर दिया है। संजय अरोड़ा
31
जुलाई
2025
तक अपने पद पर बने रहेंगे। गृह मंत्रालय ने अपने आदेश में कहा,
संजय अरोड़ा,
आईपीएस
(
टीएन:
88),
महानिदेशक,
आईटीबीपी की एजीएमयूटी कैडर में प्रतिनियुक्ति की दशा में सशस्त्र सीमा बल के महानिदेशक एसएल थाओसेन,
आईपीएस
(
एमपी:88)
आईटीबीपी डीजी के पद का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे। संजय अरोड़ा
1
अगस्त,
2022
को दिल्ली पुलिस आयुक्त का पदभाग ग्रहण करेंगे

Delhi ka police commissioner kaun hai | दिल्ली का पुलिस कमिश्नर कौन है

कौन हैं आईपीएसी संजय अरोड़ा?
kaun hai Sanjay Arora Delhi ka police commissioner

 संजय अरोड़ा तमिलनाडु कैदर के 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। संजय अरोड़ा
ने मालवीय राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, जयपुर (राजस्थान) से इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स
इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री हासिल की है। वह साल 1997 से साल 2002 तक कमांडेंट
के रूप में प्रतिनियुक्ति पर भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) में सेवा दे चुके हैं।
संजय अरोड़ा ने साल 1997 से साल 2000 तक उत्तराखंड के मातली में आईटीबीपी की बटालियन
की कमान संभाली थी।

संजय अरोड़ा की सफलता की कहानी
Sanjay Arora success story

संजय अरोड़ा ने तमिलनाडु पुलिस
में विभिन्न पदों पर काम किया। वह एसटीएफ के एसपी थे, जहां उन्होंने वीरप्पन गिरोह
के खिलाफ महत्वपूर्ण सफलता हासिल की, जिसके लिए उन्हें मुख्यमंत्री के वीरता पदक से
सम्मानित किया गया।

1997 से 2002 तक कमांडेंट के
रूप में प्रतिनियुक्ति पर ITBP में सेवा दी

संजय अरोड़ा ने तमिलनाडु के विभिन्न जिलों के एसपी के
रूप में भी सेवाएं दी हैं। अरोड़ा को साल 1997 से 2002 तक कमांडेंट के रूप में प्रतिनियुक्ति
पर भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) में सेवा दी।साल 1997 से साल 2000 तक उत्तराखंड
के मतली में आईटीबीपी बटालियन की एक सीमा सुरक्षा की कमान संभाली।

IPS संजय अरोड़ा का सफर Journey
of IPS Sanjay Arora

संजय अरोड़ा 2000 से 2002 तक
ITBP अकादमी, मसूरी में कमांडेंट (लड़ाकू विंग) के रूप में सेवारत रहे। इसके बाद
2002 से 2004 तक कोयंबटूर शहर में पुलिस कमिश्नर के रूप में सेवाएं दी। उन्होंने पुलिस
उप महानिरीक्षक, विल्लुपुरम रेंज और सतर्कता और भ्रष्टाचार विरोधी उप निदेशक के रूप
में भी कार्य किया है। अरोड़ा को पदोन्नति पर तमिलनाडु पुलिस में एडीजीपी (संचालन)
और एडीजीपी (प्रशासन) के रूप में नियुक्त किया गया था। उन्होंने आईजी (स्पेशल OP) बीएसएफ,
आईजी छत्तीसगढ़ सेक्टर सीआरपीएफ और आईजी ऑपरेशंस सीआरपीएफ के रूप में काम किया है।


By Neha

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *